Sunday, June 23, 2024
Google search engine
HomeMaharashtraबीड में बर्बरता ने लांघी हदें, विधवा महिला का ७ लोगों ने...

बीड में बर्बरता ने लांघी हदें, विधवा महिला का ७ लोगों ने किया गैंगरेप

बीड। महाराष्ट्र के बीड में एक विधवा महिला के साथ सात लोगों की ओर से सामूहिक बलात्कार की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। वह महिला रिक्शा में पर्स छोड़ आई थी। उस पर्स को लौटाने के बहाने दरिंदों ने सामूहिक बलात्कार को अंजाम दिया। इतना ही नहीं उन दरिंदों ने इस घटना की वीडियो शूटिंग भी की और वीडियो के जरिए महिला को ब्लैकमेल भी किया। यह मामला माजलगांव पुलिस स्टेशन में दर्ज कर लिया गया है। महिला को पर्स लौटाने आए कुछ दरिंदों ने पहले अपनी हवस बुझाई और फिर वीडियो के जरिए ब्लैकमेल करते हुए अन्य लोगों से भी शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया। इस घटना से पूरे जिले में दहशत फैल गई है। स्थानीय लोग आरोपी के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं और जल्दी कार्रवाई नहीं हुई तो आंदोलन करने की चेतावनी दे रहे हैं।
पीड़िता की शिकायत पर माजलगांव पुलिस स्टेशन में केस दर्ज
सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई महिला ने जब माजलगांव पुलिस स्टेशन में उस घटना की शिकायत की तब केस दर्ज किया गया। पूरी खबर इस तरह से है कि पीड़िता साल २०१४ में अपना पर्स संदीप पिंपले के ऑटो रिक्शा में छोड़ आई थी। उसे वापस करने के बहाने पहले रिक्शा चालक पिंपले ने संबंधित महिला को कबाड गली के एक रूम में बुलाया और उसके साथ रेप किया। उसने रेप का पूरा दृश्य अपने मोबाइल कैमरे में शूट कर लिया। इसके बाद वह इस वीडियो को वायरल करने की धमकी देने लगा और फिर ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू हुआ। फिर उसने अपने एक रिश्तेदार गोरख इंगोले के साथ भी शारीरिक संबंध बनाने की जबर्दस्ती की। इस तरह से २०१४ से २०२१ के दरम्यान इन सात सालों में पीड़िता से सात लोगों ने बलात्कार किया। जब उन दरिंदों की सेक्स की मांग खत्म ही नहीं हो रही थी तब हारकर पीड़िता ने माजलगांव पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवा दी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments