Thursday, April 18, 2024
Google search engine
HomeCrimeठाणे एफडीए ने जब्त किया ७ करोड का मिलावटी खाद्य सामग्री

ठाणे एफडीए ने जब्त किया ७ करोड का मिलावटी खाद्य सामग्री

सहायक आयुक्त गौरव जगताप के कार्यक्षेत्र में मिलावटखोर सक्रिय, क्या मिलावटखोरो को गौरव जगताप का संरक्षण?
मिलावटखोरों को संरक्षण देने वाले अधिकारियों पर कब कार्रवाई करेंगे एफडीए मंत्री धर्मराव बाबा अत्राम?

ठाणे। महाराष्ट्र के लोगो को अच्छा व स्वस्थ खाद्य पदार्थ मिले जिसके लिए महाराष्ट्र खाद्य व औषध प्रशासन (एफडीए) की टीम मिलावटखोरो पर कार्रवाई कर दंडित करने का काम करते रहते हैं। लेकिन कुछ एफडीए अधिकारी ऐसे हैं जो अपना काम ईमानदारी की बात तो छोड़िए लोगो के स्वास्थ्य के साथ भी खिलवाड़ करने से बाज नही आते। और मिलावटखोरों से याराना निभाने में लगे हैं जो जांच का विषय हैं! ताजा मामला एफ़डीए ठाणे के नवी मुंबई के एमआईडीसी, टीटीएस इंड्रस्ट्रीयल क्षेत्र में स्थित मेसर्स क्रिसेंट कोल्डस्टोरेज प्राइवेंट लिमिटेड पर दिनांक १० अक्टूबर २०२३ को एफडीए अधिकारियों ने निरीक्षण किया तो ९५०३४ किलो मिलावटी (खाने योग्य नहीं) खजूर व खारीक को जब्त किया, जिसकी कीमत १ करोड़ ७२ लाख ६२ हजार रुपये है। इसी प्रकार उक्त इलाके में स्थित मेसर्स मयूर कोल्डस्टोरेज प्राइवेट लिमिटेड पर दिनांक ११ अक्टूबर २०२३ को एफडीए की टीम ने निरीक्षण किया तो २,४६,४०७ किलो मिलावटी लौंग कांडी को जब्त किया हैं जिसकी कीमत ५.५ करोड़ हैं। लौंग की कांडी का इस्तेमाल खाद्य मसाले को बनाने के लिए किया जाता है। उक्त मिलावटखोरी की जानकारी कोकण मंडल के सह आयुक्त सुरेश देशमुख को मिली जिसके बाद बिना देर किये उन्होंने कार्रवाई का आदेश दिया, जिसके चलते करोड़ो रूपये के खाद्य सामग्री को जब्त किया गया। यही नहीं नवी मुम्बई में इससे पहले भी करोड़ रुपये का मिलावटी खाद्य पदार्थो को जब्त किया गया। नवी मुंबई में सबसे ज्यादा कोल्डस्टोर हैं। मजे की बात यह हैं कि इससे पहले भी उक्त क्षेत्र मे एफ़डीए विजिलेंस टीम या आयुक्त कार्यालय की टीम द्वारा मिलावटखोरो को चिन्हित कर कार्रवाई की गई है। जो क्षेत्रीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी व सहायक आयुक्त जगताप के कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान है। आखिर इनके कार्यक्षेत्र में करोड़ो के मिलावटी खाद्य पदार्थ कैसे बिक रहा हैं? जिसपर उच्च अधिकारियों को संज्ञान लेने की जरूरत है।

सह आयुक्त सुरेश देशमुख (कोकण मण्डल)

वहीं कोकण मंडल के अन्न विभाग के सह आयुक्त सुरेश देशमुख ने कहा कि खाद्य एवं औषधि प्रशासन मंत्री धर्मराव बाबा अत्राम व एफडीए आयुक्त अभिमन्यु काले ने मिलावटखोरों पर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया हैं। और जन स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हम निरंतर मिलावटखोरों पर कार्रवाई कर रहे हैं। जन स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ व खाद्य सुरक्षा व मानक अधिनियम, २००६ का उल्लंघन करने वालो को किसी भी प्रकार से बख्शा नहीं जायेगा, कोकण मण्डल के सहायक आयुक्तों व अन्न सुरक्षा अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया गया हैं कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वालों के साथ किसी भी प्रकार का समझौता या दया दिखाने की जरूरत नहीं हैं, सख्ती से मिलावटखोरो पर कार्रवाई करों साथ ही साथ उन्होंने आम आदमी से अपील की हैं कि किसी भी खाद्य प्रतिष्ठान या भोजन की गुणवत्ता के संबंध में यदि कोई संदेह है, तो उसकी विस्तृत शिकायत प्रशासन के टोल फ्री नंबर १८००-२२२-३६५ पर करें। जिससे मिलावटखोरो पर शीघ्र कार्रवाई की जा सके।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments