Friday, February 3, 2023
Google search engine
HomeArchitectureNitin Gadkari ने शेयर की दुनिया के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे की तस्वीरें,...

Nitin Gadkari ने शेयर की दुनिया के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे की तस्वीरें, ट्वीट करते हुए कही ये बात

Maharashtra : दुनिया की सबसे लंबे एक्सप्रेसवे का लोगों को बेसब्री से इंतजार है. इसे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से माना जा रहा है. ये एक्सप्रेसवे देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) से जोड़ेगा. 1386 किमी के इस 8 लेन वाले एक्सप्रेसवे से दोनों राजधानियों के बीच के सफर में 12 घंटे कम लगेंगे.

इस एक्सप्रेसवे को लेकर केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ट्वीट करके इसके निर्माण के बारे में अपडेट्स शेयर करते रहते हैं. एक बार फिर उन्होंने एक्सप्रेसवे की कुछ तस्वीरों के साथ ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के वड़ोदरा-विरार खंड से शानदार दृश्य. समृद्ध भारत के लिए दूरी को सीमित करना है. 1386 किमी लंबे इस दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के राजमार्ग में कुल 8 लेन होंगे और 12 लेन तक विस्तार की सुविधा के लिए जगह होगी.’

एक्सप्रेसवे बनाने में खर्च होंगे 98,000 करोड़
बताया जा रहा है कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे को बनाने में 98,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे. इससे ना सिर्फ दिल्ली और मुंबई के बीच कनेक्टिविटी में सुधार होगा बल्कि कई शहरों को दिल्ली से जोड़ देगा. दिल्ली-वडोदरा-मुंबई एक्सप्रेसवे से देश के कई बड़े शहरों के बीच सफर का सफर आधा हो जाएगा. दिल्ली से मुंबई का सफर 24 घंटों की बजाए 12 से 13 घंटों में पूरा हो जाएगा. इसके अलावा ये एक्सप्रेस-वे हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र सहित 5 राज्यों से होकर गुजरेगा. यही नहीं इस ये एक्सप्रेसवे जेवर हवाई अड्डे और जवाहरलाल नेहरू पोर्ट को भी मुंबई से जोड़ देगा. इस एक्सप्रेसवे का निर्माण एक रिकॉर्ड गति से हो रहा है. इस परियोजना का शिलान्यास 9 मार्च, 2019 को किया गया था.

एक्सप्रेसवे पर मिलेगी ये सुविधाएं
दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर हेलीपैड की भी सुविधा होगी. इसके अलावा हर 100 किलोमीटर पर ट्रॉमा सेंटर बनाए जाएंगे. ताकि मेडिकल इमरजेंसी में तत्काल इलाज मिल सके. इस एक्सप्रेस वे पर हर 500 मीटर की दूरी पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. इस हाईवे पर स्पीड ब्रेकर नहीं होगा. इस एक्सप्रेसवे पर गाड़ी चलाने वालों के लिए 120 किलोमीटर की स्पीड तय की गई है. इससे ज्यादा की स्पीड से गाड़ी चलाने पर ऑनलाइन चालान कट जाएगा.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments