Saturday, April 20, 2024
Google search engine
HomeIndiaMumbai : मुंबई में सर्दी ने घटाई बिजली की डिमांड, ठंड के...

Mumbai : मुंबई में सर्दी ने घटाई बिजली की डिमांड, ठंड के चलते रात में एसी और पंखे बंद रख रहे मुंबईकर

मुंबई: पिछले कुछ दिनों से उमस भरी वाली मुंबई में वाकई सर्दी का अहसास हुआ। अलमारियों से स्वेटर निकले, तो सड़कों के किनारे अलाव में हाथ सेंकते लोग भी दिखने लगे। सर्दी का असर यह हुआ है कि रात में एसी तो क्या, पंखे की हवा भी हालत खराब करने लगी। मौसम के इस बदलाव का एक और प्रभाव हुआ है। मुंबई में अचानक बिजली की डिमांड कम हो गई है।ज्यादातर मुंबईकर ठंड के चलते रात में एसी और पंखे बंद रख रहे हैं। गर्मियों में जितनी बिजली की डिमांड होती है, उससे लगभग आधी डिमांड है। पावर सप्लाई करने वाली कंपनियों के अनुसार मुंबई में पिछले कुछ दिनों से 1900-2200 मेगावॉट पावर की डिमांड है। इसमें से दक्षिण मुंबई की डिमांड 350-450 मेगावॉट के बीच है। गर्मियों ने दिनों में मुंबई में 3600-4000 मेगावॉट की होती है।

बेस्ट के महाप्रबंधक लोकेश चंद्र के अनुसार, ‘पिछले कुछ दिनों में बिजली की डिमांड कम हुई है। बेस्ट के उपभोक्ताओं की मांग फिलहाल 350-450 मेगावॉट की है।’ बेस्ट के मुंबई में 10.80 लाख उपभोक्ता हैं। कफ परेड से सायन तक बेस्ट द्वारा बिजली सप्लाई की जाती है। गर्मी के दिनों में 900-950 मेगावॉट बिजली की मांग होती है।

गिरा तापमान, बढ़ी ठंड
पिछले कुछ दिनों में रात का तापमान 15-16 डिग्री सेल्सियस के आसपास है। इस सीजन में न्यूनतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस भी दर्ज किया गया है। मुंबई के उपनगरों और एमएमआर में भी यही स्थिति है। विरार, कल्याण, कर्जत जैसे इलाकों में तो मुंबई के मुकाबले और ज्यादा ठंड है। पावर सेक्टर के जानकारों के मुताबिक, पश्चिम और पूर्वी उपनगरों में भी डिमांड गिरी है। यहां अडाणी ग्रुप द्वारा बिजली की सप्लाई की जाती है। फिलहाल, यहां बिजली की डिमांड 1350-1450 मेगावॉट है, जबकि पीक सीजन में 2000-2100 मेगावॉट तक मांग रहती है। शहर के कई भागों में टाटा पावर द्वारा बिजली की सप्लाई की जाती है।

नहीं चली एसी, तो डिमांड कैसी
जानकारों का कहना है कि मुंबई के उमस भरे मौसम में सबसे ज्यादा बिजली की खपत एसी के कारण होती है। कई शहरों में तापमान इतना गिर जाता है कि हीटर और गिजर चलने लगते हैं, जिससे बिजली की सप्लाई में ज्यादा अंतर नहीं पड़ता, लेकिन मुंबई में हीटर जलाने की लोगों को आदत नहीं है। पालघर, नवी मुंबई और ठाणे जिले के गांवों में तापमान और ज्यादा गिरा है।

एक दिन में बढ़ा टेंपरेचर
शुक्रवार को कोलाबा का अधिकतम तापमान 31 डिग्री और सांताक्रुज का 34.4 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। एक दिन में 5 डिग्री बढ़ा तापमान बढ़ने से लोगों को सतर्क रहने की अपील मौसम विभाग ने की है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments