Friday, June 21, 2024
Google search engine
HomeFashionशिंदे गुट में नाराजगी, सांसद श्रीरंग बारने बोले - 'हमें भी चाहिए...

शिंदे गुट में नाराजगी, सांसद श्रीरंग बारने बोले – ‘हमें भी चाहिए एक कैबिनेट मंत्री पद’

मुंबई। नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार के गठन के बाद मंत्रिमंडल को लेकर खींचतान अभी भी जारी है। रविवार शाम मोदी समेत कुल 72 सांसदों ने मंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण के 24 घंटे भी नहीं बीते कि महाराष्ट्र में सीएम एकनाथ शिंदे गुट की शिवसेना में मंत्रिमंडल को लेकर नाराजगी सामने आ गई है। शिंदे गुट के नेता श्रीरंग बारने ने कहा कि कम से कम हमें भी एक कैबिनेट मंत्री पद चाहिए। मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल के मंत्रिमंडल पर सवाल उठाते हुए बारने ने कहा कि 4-5 सीट जीतकर आने वाली पार्टियों को कैबिनेट दिया गया है। महाराष्ट्र में हमने तो 7 सीटें जीती हैं, ऐसे में कम से कम हमें भी एक कैबिनेट तो मिलना ही चाहिए। बारने पुणे की मावल लोकसभा सीट से सांसद हैं। उन्होंने यह भी कहा कि शिवसेना बीजेपी की सबसे पुरानी सहयोगी रही है, ऐसे में हमें भी कैबिनेट मिलनी चाहिए थी।
शिंदे गुट को मिला है एक राज्य मंत्री पद
शिंदे गुट के नेता प्रतापराव जाधव ने राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में शपथ ली है। जाधव शिंदे गुट से इकलौते ऐसे नेता हैं जिन्हें मंत्री बनाया गया है। जाधव महाराष्ट्र की बुलढाणा लोकसभा सीट से सांसद निर्वाचित हुए हैं। जाधव के लिए यह चौथा मौका है कि जब वो बुलढाणा की सीट से सांसद चुने गए हैं। जाधव ने अपनी राजनीति की शुरुआत सरपंच से की थी और अब उन्हें मंत्री बनाया गया है।
अजित पवार गुट भी है नाराज
शपथ ग्रहण समारोह में अजित पवार गुट की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने कैबिनेट मंत्री पद की मांग पर जोर देते हुए राज्य मंत्री का पद ठुकरा दिया। सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी हाईकमान की ओर से एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल को राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार का ऑफर दिया गया था, लेकिन उन्होंने यह कहते हुए ठुकरा दिया कि वे पहले कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं और राज्य मंत्री का पद उनके लिए उपयुक्त नहीं रहेगा।
महाराष्ट्र में किसका, कैसा रहा है प्रदर्शन
लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना और एनसीपी ने साथ चुनाव लड़ा था। चुनाव में तीनों ही पार्टियों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। बीजेपी को 9 सीटों पर ही जीत हासिल हुई है, जबकि शिंदे गुट की शिवसेना के खाते में 7 सीटें आई हैं। वहीं, अजित पवार के गुट की एनसीपी मात्र एक सीट पर जीत हासिल कर पाई है। दूसरी ओर, कांग्रेस ने 13 सीटें जीती हैं जबकि उसकी गठबंधन सहयोगी उद्धव ठाकरे गुट की शिवसेना की झोली में 9 सीटें आई हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments