Wednesday, April 17, 2024
Google search engine
HomeIndiaमां की आत्महत्या से सदमे में दो बेटियों ने दी जान, एक...

मां की आत्महत्या से सदमे में दो बेटियों ने दी जान, एक साथ तीन मौतों से कोहराम

अहमदनगर: महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में एक साथ तीन मौतों से हड़कंप मच गया है. यहां अकोले तहसील के मन्याले गांव में एक महिला ने गले में फंदा डालकर आत्महत्या कर ली. इस घटना से सदमे में आकर उस महिला की दो बेटियों ने भी कुएं में कूदकर अपनी जान दे दी. मां का नाम सुनीता जाधव (उम्र 48) था और बेटियों का नाम प्राजक्ता जाधव (उम्र 22) और शीतल जाधव (उम्र 18) था. इस घटना से पूरे गांव में शोक का माहौल है.

इन तीनों के शव फिलहाल अकोले ग्रामीण अस्पताल में रखे गए हैं. अब तक इन आत्महत्याओं की वजह सामने नहीं आई है. पुलिस इस मामले में जांच और पूछताछ कर रही है. पुलिस जांच के बाद ही आत्महत्याओं की वजह साफ हो पाएगी.

पिता ने पढ़ाई के लिए डांट पिलाई, तो कर लिया सुसाइड
इसी तरह की एक और घटना छत्रपति संभाजीनगर (औरंगाबाद) से सामने आई है. यहां एक पिता ने ग्यारहवीं में पढ़ने वाले अपने बेटे को पढ़ाई के लिए फटकार लगाई तो गुस्से में बेटे ने गले में फंदा डाल कर सुसाइड कर लिया. उसने एक सुसाइड नोट भी लिखा है. यह घटना सोमवार (27 फरवरी) की रात गारखेडा इलाके के स्वानंदनगर इलाके में हुई. इस मामले में जवाहरनगर पुलिस थाने में केस दर्ज कर लिया गया है. आत्महत्या करने वाले युवक का नाम शार्दूल शंकर कोपलकर (उम्र 17) था. मृतक युवक का परिवार स्वानंदनगर इलाके के रेणुका इन्क्लेव में रहता है.

पुलिस द्वारा दी गई जानकारियों को मुताबिक शार्दूल उर्फ अमोल देवगिरी कॉलेज में ग्यारहवीं का छात्र था. वह कॉमर्स विषय में पढ़ाई कर रहा था. पिछले कुछ दिनों से उसका पढ़ाई में बिलकुल मन नहीं लग रहा था. सोमवार की रात इसी बात पर उसके पिता ने उसे डांटा था. अमोल ने इसी बात से नाराज होकर गले में फंदा डाल कर आत्महत्या कर ली. परिवार वालों को जैसे ही इसकी जानकारी मिली, वे पड़ोसियों की मदद से अमोल को अस्पताल ले गए. अस्पताल में डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. अमोल के पिता कंस्ट्रक्शन के काम में लेबर सप्लाई करने वाले ठेकेदार हैं. शार्दूल के अलावा उनकी दो बेटियां हैं.

शार्दूल ने सुसाइड नोट में लिखा- मुझे माफ कर दें
आत्महत्या करने से पहले अमोल ने सुसाइड नोट लिख छोड़ा है. इस सुसाइड नोट में उसने लिखा है, ‘ सॉरी मम्मी-पापा मुझे माफ करें. मैं आपकी उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया.’ पुलिस इस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments