Friday, February 3, 2023
Google search engine
HomeIndiaNew Delhi: शुभेंदु अधिकारी ने किया राज्यपाल के शपथग्रहण का बायकॉट, ममता...

New Delhi: शुभेंदु अधिकारी ने किया राज्यपाल के शपथग्रहण का बायकॉट, ममता को बताया ‘मनहूस राजनेता’

New Delhi : बीजेपी विधायक (BJP MLA) और पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी बुधवार को राज्य के नए राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हुए। समारोह में शामिल न होने की वजह सुवेंदु अधिकारी ने गलत सीट व्यवस्था बताया। वहीं उन्होंने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी करारा हमला बोला। शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट कर बताया कि उन्हें विधायक कृष्णा कल्याणी और बिस्वजीत दास के बगल में बैठाया गया था, जो भाजपा के टिकट पर चुने गए थे, लेकिन बाद में TMC में शामिल हो गए. इतना ही नहीं उन्होंने ममता बनर्जी को भारत में पैदा हुआ सबसे मनहूस नेता करार दिया।

शुभेंदु अधिकारी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर पर हमलावर होते हुए कहा “वे (Mamata Banerjee) भारत में पैदा हुई अब तक की सबसे घटिया राजनेता हैं, जो शर्मनाक तरीके से सत्ता पर काबिज हो गईं। अगर वे ये सोचकर खुश हैं कि उनकी ये रणनीति मुझे परेशान करेगी तो वे मूर्खों के स्वर्ग में रह रही हैं. लेकिन मैं उनकी तरह नहीं हूं बल्कि मैं अपनी गरिमा के लिए जागरुक हूं.”

‘मैं पद की प्रतिष्ठा के साथ समझौता नहीं करूंगा’

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि मैं अपने पद की प्रतिष्ठा के साथ कोई समझौता नहीं करूंगा। इसलिए मैं कार्यक्रम में शामिल नहीं हुआ. यह विपक्ष को अपमानित करने के उद्देश्य से किया गया है। हमने राज्यपाल को सूचित कर दिया है और हम उनसे अलग से मिलेंगे. अधिकारी ने कहा कि पोस्टकार्ड प्रिंट करने के लिए भी मुख्यमंत्री की अनुमति की आवश्यकता होती है। मुख्यमंत्री ने ही राज्यपाल के शपथ ग्रहण समारोह के लिए गेस्ट लिस्ट और सीटिंग अरेंजमेंट तय किया हुआ है।

केरल कैडर के सेवानिवृत्त अधिकारी हैं बोस

सीवी आनंद बोस ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के रूप में बुधवार को शपथ ग्रहण की। कलकत्ता उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश प्रकाश श्रीवास्तव ने राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्हें पद की शपथ दिलाई। इस दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, राज्य विधानसभा के अध्यक्ष बिमान बनर्जी और कई मंत्री मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments