Tuesday, February 7, 2023
Google search engine
HomeHealth & Fitnessnew Delhi: एयर इंडिया एक्सप्रेस ने जारी की कोरोना गाइडलाइंस, इस देश...

new Delhi: एयर इंडिया एक्सप्रेस ने जारी की कोरोना गाइडलाइंस, इस देश से भारत आने वाले पैसेंजर्स की सख्त निगरानी

new Delhi: वैश्विक स्तर पर तेजी से बढ़ते मामलों के बीच एयर इंडिया एक्सप्रेस ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से भारत आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना गाइडलाइंस जारी की है. फ्लाइट सर्विस की ओर से लोगों से बार-बार अपील की जा रही है कि वो कोरोना उपयुक्त व्यवहार रखें. मास्क, सैनेटाइजर और दो गज की दूरी का पालन करें. भारत में पिछले दिनों कुछ एयरपोर्ट्स में विदेशी नागिरक पॉजिटिव पाए गए थे. जिसके बाद उनके सैंपल्स की जीनोम सीक्वेंसिंग जांच के लिए भेजा गया है ताकि कोरोना के रूप का पता चल सके.

एयर इंडिया एक्सप्रेस ने ट्वीट कर गाइडलाइंस की जानकारी दी है. उन्होंने कहा है कि यूएई से भारत आने वाले यात्रियों का वैक्सीनेशन होना अनिवार्य है. उन्होंने कहा कि आपके देश में जिस भी वैक्सीन को अप्रूव किया गया है उसकी पूरी डोज आपको लगी होना चाहिए. इसके अलावा मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग सबसे ज्यादा जरुरी है. एयर इंडिया एक्सप्रेस का हेडक्वार्टर कोच्चि में है. ये विशेष रूप से भारत की पहली इंटरनेशनल सेवा करने वाली फ्लाइट है, जो मध्य पूर्व और दक्षिण पूर्व एशिया को कनेक्टिविटी प्रदान करता है.

12 साल के कम उम्र के बच्चों के लिए गाइडलाइंस
हालांकि दिशानिर्देशों में कहा गया है कि 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए परीक्षण की आवश्यकता नहीं है. लेकिन अगर किसी बच्चे में परीक्षण दिखते हैं तो प्रोटोकॉल के अनुसार उन्हें टेस्टिंग से गुजरना होगा. इस दौरान अगर वो पॉजिटिव आते हैं तो उनको कोरोना ट्रीटमेंट लेना पड़ेगा. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoCA) ने गुरुवार को कहा था कि देश में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर आने वाले यात्रियों में से कम से कम दो प्रतिशत को कोविड -19 के लिए एहतियाती उपाय के तहत Random Sampling से गुजरना होगा.

यात्रियों की पहचान एयरलाइंस करेगी
MoCA ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि यात्रियों की पहचान एयरलाइंस करेगी और इसके बाद ही उन्हें हवाई अड्डे से जाने की अनुमति होगी. पॉजिटिव आने वाले सैंपल्स को अलग किया जाएगा और फिर जीनोम सीक्वेंसिंग (Genome Sequencing) के लिए भेजे जाएंगे.

कोरोना स्थिति को देखते हुए बदल सकते हैं नियम
पिछले हफ्ते लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा था कि चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, फ्रांस और अमेरिका सहित विभिन्न देशों में कोरोना वायरस संक्रमण के हालिया उछाल के बीच सरकार ने देश के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर आने वाले यात्रियों के बीच रैंडम आरटी-पीसीआर सैंपलिंग शुरू की है. इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने भी COVID-19 महामारी के मद्देनजर ‘अंतर्राष्ट्रीय आगमन के लिए दिशानिर्देश’ जारी किए और कहा कि समय-समय पर दिशानिर्देशों की समीक्षा और संशोधन किया जाएगा.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments