Friday, May 24, 2024
Google search engine
HomeIndia'बीजेपी और ओवैसी राम-श्याम की जोड़ी…', संजय राउत का पलटवार, AIMIM को...

‘बीजेपी और ओवैसी राम-श्याम की जोड़ी…’, संजय राउत का पलटवार, AIMIM को कहा- वोट कटवा मशीन

असदुद्दीन ओवैसी के राम-श्याम की जोड़ी वाले बयान पर संजय राउत ने पलटवार किया है. संजय राउत ने कहा, राम-श्याम की जोड़ी तो भाजपा और ओवैसी को कहना चाहिए. राउत ने ओवैसी को भाजपा की बी टीम बताया और कहा कि जहां बीजेपी को जीतना होता है, वहां ओवैसी पहुंच जाते हैं.

संजय राउत ने कहा, लोग कहते हैं कि ओवैसी की पार्टी भाजपा की बी-टीम है. वोट कटवा मशीन है. राम-श्याम वाला जुमला उनके ऊपर ज्यादा ठीक लगता है.

ओवैसी ने कहा था राम-श्याम की जोड़ी
आल इंडिया मजलिए-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता और हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार (25 फरवरी) को मुब्रा में महाराष्ट्र की राजनीतिक पार्टियों पर हमला बोला था. रैली को संबोधित करते हुए शिव सेना पर निशाना साधते हुए कहा, वे कहते हैं कि सेक्युलरिज्म बचाओ. क्या शिव सेना सेक्युलर है? ओवैसी ने उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे को ‘राम और श्याम की जोड़ी’ कहा था.

मुसलमान नेता क्यों नहीं बन सकते?
ओवैसी ने रैली में राजनीतिक परिवारों पर निशाना साधते हुए कहा, सुप्रिया सुले और अजित पवार नेता बन सकते हैं. आदित्य ठाकरे अपने पिता की वजह से नेता बन सकते हैं. उन्होंने आगे कहा, देवेंद्र फडणवसी और एकनाथ शिंदे नेता बन सकते हैं. क्या महाराष्ट्र के मुसलमान शरद पवार, उद्धव ठाकरे और शिंदे की तरह नेता नहीं बन सकते.

एआईएमआईएम नेता ने मुसलमानों से एकजुट होने की अपील की. ओवैसी ने कहा, “सिर्फ नारे लगाने से आप एक नहीं हो सकते. एकजुट हो जाइए, वोट दीजिए और नेता बन जाइए. जब बातचीत होगी, तो आप उनकी आंखों में देख सकेंगे.”

असदुद्दीन ओवैसी के राम-श्याम की जोड़ी वाले बयान पर संजय राउत ने पलटवार किया है. संजय राउत ने कहा, राम-श्याम की जोड़ी तो भाजपा और ओवैसी को कहना चाहिए. राउत ने ओवैसी को भाजपा की बी टीम बताया और कहा कि जहां बीजेपी को जीतना होता है, वहां ओवैसी पहुंच जाते हैं.

संजय राउत ने कहा, लोग कहते हैं कि ओवैसी की पार्टी भाजपा की बी-टीम है. वोट कटवा मशीन है. राम-श्याम वाला जुमला उनके ऊपर ज्यादा ठीक लगता है.

ओवैसी ने कहा था राम-श्याम की जोड़ी
आल इंडिया मजलिए-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता और हैदराबाद सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार (25 फरवरी) को मुब्रा में महाराष्ट्र की राजनीतिक पार्टियों पर हमला बोला था. रैली को संबोधित करते हुए शिव सेना पर निशाना साधते हुए कहा, वे कहते हैं कि सेक्युलरिज्म बचाओ. क्या शिव सेना सेक्युलर है? ओवैसी ने उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे को ‘राम और श्याम की जोड़ी’ कहा था.

मुसलमान नेता क्यों नहीं बन सकते?
ओवैसी ने रैली में राजनीतिक परिवारों पर निशाना साधते हुए कहा, सुप्रिया सुले और अजित पवार नेता बन सकते हैं. आदित्य ठाकरे अपने पिता की वजह से नेता बन सकते हैं. उन्होंने आगे कहा, देवेंद्र फडणवसी और एकनाथ शिंदे नेता बन सकते हैं. क्या महाराष्ट्र के मुसलमान शरद पवार, उद्धव ठाकरे और शिंदे की तरह नेता नहीं बन सकते.

एआईएमआईएम नेता ने मुसलमानों से एकजुट होने की अपील की. ओवैसी ने कहा, “सिर्फ नारे लगाने से आप एक नहीं हो सकते. एकजुट हो जाइए, वोट दीजिए और नेता बन जाइए. जब बातचीत होगी, तो आप उनकी आंखों में देख सकेंगे.”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments