Thursday, April 18, 2024
Google search engine
HomeCrime'घाट पर शव को ठिकाने लगाने गया तो लाश के साथ गिरकर...

‘घाट पर शव को ठिकाने लगाने गया तो लाश के साथ गिरकर हुई मौत’, महाराष्ट्र में दोस्त के मर्डर का ऐसे खुला राज

महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक शख्स ने पहले अपने दोस्त की हत्या की फिर उसकी भी मौत हो गई. दरअसल, एक 30 वर्षीय व्यक्ति ने छोटे से विवाद के बाद अपने ही दोस्त की को मौत के घाट उतार दिया था. इसके बाद जब वह शव को ठिकाने लगाने के लिए सावंतवाड़ी के अंबोली घाट (Amboli Ghat) पर पहुंचा और लाश के साथ ही खड़ी पहाड़ी की ढलान से नीचे गिर गया. हालांकि, उसके साथ गया एक और व्यक्ति बच गया.

सूत्रों ने बताया कि भाऊसो माने और उसके सहयोगी तुषार पवार (28) ने पैसे के लेन-देन को लेकर हुए विवाद के बाद रविवार को सुशांत खिलारे (30) की हत्या कर दी थी. तीनों सतारा के कराड के रहने वाले हैं. खिलारे के शव को ठिकाने लगाने के लिए माने और पवार एक कार में 400 किमी दूर अंबोली घाट गए थे. घाट पर माने ने अपना संतुलन खो दिया और शव के साथ गिर गया और हादसे में उसकी मौत हो गई.

पुलिस ने बरामद किए शव

इसके बाद भाऊसो माने के साथ गए तुषार पवार ने अपने परिजनों को कॉल करके सबकुछ बता दिया और सारा गुनाह कबूल लिया था. मामले का खुलासा तब हुआ जब एक स्थानीय व्यक्ति ने मंगलवार को एक शव देखा और पुलिस को इस बारे में जानकारी दी. सब-इंस्पेक्टर अमित गोटे के साथ बचावकर्मियों ने दो शवों को बाहर निकाला, जो एक-दूसरे कुछ ही दूरी पर थे.

पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे शव

सावंतवाड़ी पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा अंबोली घाट में राज्य भर में सबसे ज्यादा बारिश होती है और एक समय में यह जगह शवों को डंप करने के लिए बदनाम थी. पिछले तीन सालों में इस क्षेत्र में दो और शव फेंके गए थे. इसके बाद से यहां कई सीसीटीवी लगा दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि इस मामले में बरामद किए गए दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments