Friday, May 24, 2024
Google search engine
HomeIndia‘मध्यावधि चुनाव की करें तैयारी’, उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान, पर शरद...

‘मध्यावधि चुनाव की करें तैयारी’, उद्धव ठाकरे का बड़ा बयान, पर शरद पवार का अलग अनुमान

मुंबई: महाराष्ट्र के दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए 26 फरवरी को वोटिंग है. पुणे के कसबा और पिंपरी चिंचवड की सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए आज (24 फरवरी, शुक्रवार) प्रचार का आखिरी दिन है. साथ ही शिवसेना के शिंदे-ठाकरे विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू है. कल तक सुप्रीम कोर्ट में लगातार तीन दिनों तक सुनवाई हुई. अब 28 फरवरी से सुनवाई होगी. इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्धव ठाकरे ने शिवसैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यावधि चुनाव की तैयारी शुरू करें. पर आज शरद पवार ने मध्यावधि चुनाव की संभावनाओं से इनकार किया.

उद्धव चुनाव के मध्यावधि चुनाव होने की बात का संजय राउत ने भी समर्थन किया है. संजय राउत ने कहा कि उद्धव ठाकरे ने जो मध्यावधि चुनाव होने की बात कही है वो तथ्यों पर आधारित है. उद्धव ठाकरे ने अपने फेसबुल लाइव के जरिए गुरुवार को किए गए संबोधन में कहा कि पूरी संभावना है कि सुप्रीम कोर्ट अपने फैसले में एकनाथ शिंदे समेत उनके समर्थक 16 विधायकों की विधायकी को डिस्क्वालिफाई कर दे. इससे शिंदे सरकार अल्पमत में आ जाएगी और विधासभा के बजट सत्र के बाद महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव का ऐलान हो जाएगा.

उद्धव ठाकरे ने मध्यावधि चुनाव होने की संभावना जताते हुए यह कहा था
उद्धव ठाकरे गुरुवार को फेसबुक लाइव के जरिए महाराष्ट्र में पुणे के कसबा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार और चिंचवड़ सीट पर एनसीपी के उम्मीदवार के समर्थन में अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने अपने संबोधन में कहा, ‘ आप (एकनाथ शिंदे के समर्थक) अपने चोरी किए हुए धनुष-बाण को लेकर आ जाएं, हम अपनी मशाल (चुनाव चुन्ह) लेकर आते हैं. आज कसबा में कांग्रेस और चिंचवड़ में एनसीपी के उम्मीदवार को जीत दिलानी ही होगी. मेरा अनुमान है कि हम विधानसभा के लिए मध्यावधि चुनाव की दिशा में जा रहे हैं. क्योंकि 16 विधायकों (शिंदे समर्थक) की अयोग्यता के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू है. अगर वे अयोग्य साबित हुए तो राज्य में मध्यावधि चुनाव होना तय है.’

दरअसल उद्धव ठाकरे ने कोर्ट में दलील दी थी कि चूंकि एकनाथ शिंदे और उनके समर्थक बगावत के बाद यह दावा करते रहे कि वे पार्टी से अलग नहीं हुए हैं, ऐसे में शिवसेना द्वारा जारी किए हुए व्हिप से वे बंधे थे. लेकिन उन्होंने व्हिप को नहीं माना इसलिए उन्हें डिस्क्वालिफाई किया जाना चाहिए.

शरद पवार ने यह कहते हुए मध्यावधि चुनाव की संभावनाओं से इनकार किया
लेकिन शरद पवार ने आज मध्यावधि चुनाव की आशंकाओं पर कहा, ‘फिलहाल मौजूदा सरकार को कोई खतरा नहीं है और इसके हाथ बहुत ताकत है. यह अपनी पूरी ताकत का इस्तेमाल करेगी, मुझे तो महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव की संभावनाएं नजर नहीं आ रही. उद्धव ठाकरे ने यह बात किस आधार पर कही है, इसकी मुझे जानकारी नहीं है.’ शरद पवार आज एमपीएससी के अभ्यर्थियों से संवाद स्थापित करने के बाद पुणे में पत्रकारों से बात कर रहे थे.

पवार SC के भावी फैसले भांप गए ? क्यों नहीं रख रहे ठाकरे की बात से इत्तिफाक?
यहां सवाल उठ रहा है कि शरद पवार ने उद्धव ठाकरे से अलग राय क्यों दी? क्या वे इस बात को भांप चुके हैं कि सुप्रीम कोर्ट क्या फैसला देने जा रहा है? सुप्रीम कोर्ट का संकेत अगर पढ़ा जाए तो कल कपिल सिब्बल की दलीलों पर जवाब देते हुए सीजेआई धनंजय चंद्रचूड़ ने साफ कहा था कि वे अगर यह सही भी कह रहे हैं कि शिंदे सरकार का बनना अवैध था तो वे बहुमत परीक्षण की पूरी कार्रवाई रद्द तब कर सकते थे लेकिन वे ऐसा तब करते जब उद्धव ठाकरे इस्तीफा ना देकर फ्लोर टेस्ट का सामना करते. लेकिन उद्धव ठाकरे ने तो बहुमत परीक्षण से पहले ही इस्तीफा दे दिया?

मंगलवार की सुनवाई में कोर्ट ने कपिल सिब्बल से यह भी पूछा था कि क्या सुप्रीम कोर्ट विधानसभा के अध्यक्ष की कार्रवाई पर दखल दे सकता है? कपिल सिब्बल ने पुराने केस का हवाला देते हुए हां में सर हिलाया था. फिर जवाब में चीफ जस्टिस चंद्रचू़ड़ ने कहा कि तब तो – We have to replace the institutional mechanism which is provided by tenth schedule itself. यानी सुप्रीम कोर्ट साफ तौर से अपनी मंशा जताना चाह रहा है कि वह विधानसभा की कार्रवाई में हस्तक्षेप करना नहीं चाहता है. ऐसे में विधानसभा स्पीकर अब बदल गए हैं अब विधायकों को अयोग्य ठहराने वाले उपाध्यक्ष नरहरि झिरवाल की बजाए अब के स्पीकर राहुल नार्वेकर बीजेपी समर्थक हैं. शायद यही बात शरद पवार समझ रहे हैं और वे यह मान कर चल रहे हैं कि शिंदे-फडणवीस सरकार अपना कार्यकाल पारू करेगी. इसलिए पवार ने मध्यावधि चुनाव की संभावनाओं से इनकार किया है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments