Monday, March 27, 2023
Google search engine
HomeIndia'कानून मंत्री ने न्यायपालिका को धमकी', संजय राउत ने पूछा- क्या देश...

‘कानून मंत्री ने न्यायपालिका को धमकी’, संजय राउत ने पूछा- क्या देश में तानाशाही है?

उद्धव ठाकरे गुट के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने न्यायपालिका, कॉलेजियम सिस्टम समेत तमाम राजनीतिक मुद्दों को लेकर केंद्र पर हमला बोला है. राउत ने आरोप लगाया कि विपक्षी नेताओं को सरकार के खिलाफ बोलने नहीं दिया जाता है. उन्होंने इसे एक गंभीर मुद्दा बताते हुए पूछा कि क्या सरकार के खिलाफ बोलना गुनाह है? क्या शासकों की यह इच्छा है कि देश की न्यायपालिका स्वतंत्र न रहे? देश के कानून मंत्री ने न्यायपालिका को धमकी दी है.

राउत ने कहा, देश में जारी तानाशाही के खिलाफ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आवाज उठाई है. इसलिए उनका सांसद रद्द करने का आंदोलन चल रहा है. कानून मंत्री के बयान पर उन्होंने कहा कि जिस पद पर आंबेडकर संविधान लिख रहे हैं, उसी पद पर बैठे जज को आप धमकी दे रहे हैं. यह भाषा कानून मंत्री को शोभा नहीं देती. सत्ता में आने के बाद से ये सरकारें दखल दे रही हैं. सरकार सुप्रीम कोर्ट को अपनी जेब में डालने की कोशिश कर रही है.

‘राहुल गांधी माफी नहीं मांगेंगे’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के विदेश में दिए गए बयान को लेकर बीजेपी लगातार उनसे माफी मांगने की मांग कर रही है. इसपर राउत ने दो टूक कहा कि राहुल माफी नहीं मांगेंगे. उन्होंने पूछा कि राहुल को आखिर क्यों माफी मांगनी चाहिए. उनके बजाय बीजेपी के कई नेताओं को आज माफी मांगनी चाहिए. सरकार विपक्ष की आवाज दबा रही है.

विपक्षा एकजुटता पर क्या बोले थे राउत

इससे पहले राउत ने विपक्ष की एकजुटता को लेकर कहा था कि विपक्ष के एकजुट होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हार जाएंगे. इंदिरा गांधी भी हार गई थीं, पवार साहब (शरद पवार) भी महाराष्ट्र में हार गए थे, हमने हराया था सबको जब बालासाहेब ठाकरे थे. डेमोक्रेसी है, जनता तय करेगी लेकिन हमको लगता है कि अभी समय आ गया है बीजेपी के हारने का.”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments