Saturday, July 20, 2024
Google search engine
Homeअन्य राज्यNew Delhi: पाकिस्तानी अखबारों सेः नौ मई की घटना पर सेनाध्यक्ष की...

New Delhi: पाकिस्तानी अखबारों सेः नौ मई की घटना पर सेनाध्यक्ष की चेतावनी को तरजीह

New Delhi

आर्थिक सर्वे, बजट के अलावा जहांगीर तरीन की नई पार्टी की खबरों ने भी बटोरीं सुर्खियां

नई दिल्ली:(New Delhi) पाकिस्तान से गुरुवार को छपे ज्यादातर अखबारों ने सेनाध्यक्ष जनरल आसिम मुनीर के फार्मेशन कमांडर बैठक में 09 मई के साजिशकर्ताओं को कड़ा संदेश देने से संबंधित खबरों को तरजीह दी है। उनका कहना है कि राजनीतिक सरगर्मियां रोकने का आरोप सेना को बदनाम करने की नाकाम कोशिश है। सबूत मौजूद हैं, मानवाधिकारों के हनन की आड़ के पीछे छुपना अब मुमकिन नहीं है। वक्त आ गया है कि 9 मई की साजिशों के मास्टरमाइंड के खिलाफ कानून की गिरफ्त मजबूत की जाए। देश के दुश्मन और इनके समर्थक प्रोपेगेंडा से समाज में भेदभाव पैदा करने में लगे हैं।

कुछ अखबारों में आर्थिक सर्वे आज और पार्लियामेंट में बजट कल पेश किए जाने की खबरों को अपना प्रमुख समाचार बनाया है। इससे संबंधित एक बयान में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने कहा कि लोगों की तरक्की सरकार की पहली प्राथमिकताओं में शामिल है। जबकि पूर्व राष्ट्रपति और पीपीपी नेता आसिफ अली जरदारी ने कहा है कि पहले लोगों को अमीर करें, फिर टैक्स लगाएं। पाकिस्तान को 200 अरब डॉलर के मुद्रा भंडार की जरूरत है।

इसके अलावा लगभग सभी अखबारों ने पूर्व वित्त मंत्री जहांगीर तरीन के जरिए नई इस्तहकाम पार्टी का गठन करने की घोषणा की खबरें देते हुए बताया है कि इसमें पीटीआई के 100 से अधिक नेता शामिल हो रहे हैं। इमरान खान पर गद्दारी का मुकदमा करने वाले वकील की हत्या के मामले में उनके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किए जाने और घड़ी की फर्जी रसीद केस में भी पत्नी समेत नामजद आरोपी बनाए जाने की खबरें भी छाई हैं। अखबारों ने पाकिस्तान और यूएसए ऐड के बीच पंचवर्षीय समझौता होने की खबर देते हुए बताया है कि 5 सालों मे 41 करोड़ 55 लाख डॉलर उपलब्ध कराया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय खबरों में अमेरिकी विदेश मंत्री की सऊदी अरब के प्रिंस क्राउन मोहम्मद बिन सलमान के साथ मुलाकात की खबरों को महत्व दिया गया है। इस मुलाकात में तेल उत्पादन समेत कई महत्वपूर्ण मामलों पर बातचीत हुई है।

सरहद इस पार भारत से जिन खबरों को प्राथमिकता दी गई है, उनमें भारतीय क्रिकेट बोर्ड पर भ्रष्टाचार के आरोपों की खबर शामिल है। अखबारों ने लिखा है कि पूर्व एंटी करप्शन चीफ ने इसका भांडा फोड़ा है। इसके अलावा उधर के अखबारों ने भारत में सिखों के साथ भेदभाव पूर्ण रवैया अपनाने की खबरें देते हुए बताया है कि बैंक में उनका अकाउंट खुलवाना मुश्किल हो गया है। एक सिख गुरमीत सिंह ने आरोप लगाया है कि बैंक ने उनसे अपनी पगड़ी बाहर उतारकर बैंक के अंदर आने को कहा था।

इसके साथ बांग्लादेश की विपक्षी पार्टियों के जरिए भारतीय संसद पर लगे अखंड भारत के नक्शे पर विरोध दर्ज कराने की खबरों को भी जगह दी गई है। विरोध करने वालों का कहना है कि किसी दूसरे देश को अपने नक्शे में दिखाना स्वतंत्रता के लिए खतरा है। यह सभी खबरें रोजनामा पाकिस्तान, रोजनामा नवाएवक्त, रोजनामा खबरें, रोजनामा दुनिया, रोजनामा एक्सप्रेस, रोजनामा जंग और रोजनामा औसाफ आदि ने अपने पहले पन्ने पर प्रकाशित की हैं।

रोजनामा नवाएवक्त ने मणिपुर हिंसा में 07 वर्षीय बच्चे और मां समेत तीन लोगों को एंबुलेंस में जिंदा जला दिए जाने की खबर प्रकाशित की है। अखबार लिखता है कि राज्य में हिंदू और ईसाई कम्युनिटी में 3 मई से दंगा जारी है, अब तक 100 के करीब लोग मारे जा चुके हैं और सैकड़ों लोग घायल हैं। लोगों के मकानों, धार्मिक स्थलों को भी आग लगाकर ध्वस्त कर दिया गया है। हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments