Sunday, July 21, 2024
Google search engine
HomeझारखंडRaipur: केंद्र सरकार के द्वारा धान के समर्थन मूल्य में की गई...

Raipur: केंद्र सरकार के द्वारा धान के समर्थन मूल्य में की गई मामूली वृद्धि किसानों के साथ धोखा है : कांग्रेस

Raipur

महंगाई के हिसाब से धान की समर्थन मूल्य में की गई वृद्धि ऊंट के मुंह में जीरा

रायपुर:(Raipur) केंद्र सरकार के द्वारा धान और रवि फसल के समर्थन मूल्य में की गई मामूली वृद्धि को किसानों के साथ धोखा और छल करार देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि केंद्र सरकार ने धान के समर्थन मूल्य में मात्र सात प्रतिशत की वृद्धि कर आमदनी दोगुनी होने का इंतजार कर रहे किसानों के ऊपर वज्र प्रहार किया है।

उन्होंने कहा कि किसानों को आर्थिक तंगहाली की ओर ढकेला है। जहाँ एक ओर महंगाई आसमान छू रही है। डीजल पेट्रोल के दाम में 820 प्रतिशत की बढोत्तरी कृषि मजदूरी में दोगुनी हुई,कृषि यंत्र और रासायनिक खाद, कीटनाशक, ट्रैक्टर पार्ट्स, ऑयल ग्रीस के दाम में बेतहाशा वृद्धि हुई और फसल बीमा की प्रीमियम में बढ़ोतरी के चलते कृषि लागत मूल्य 2014 के पहले के मुकाबले आज दोगुना हुआ है। वहीं केंद्र सरकार 9 साल में धान के समर्थन मूल्य में बढ़ी हुई लागत मूल्य के एक चौथाई भी बढ़ोतरी नहीं कर पाई है।

मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा ने 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में देशभर के किसानों को स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देना एवं 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा किया था जो 9 साल में पूरा नहीं हो पाया है। केंद्र सरकार को किसानों की उपवास का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने एवं आमदनी बढ़ाने का यह आखिरी अवसर मिला था उसमें भी मोदी सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया है। अब 2024 में किसान केंद्र से मोदी सरकार की विदाई करेंगे और कांग्रेस की सरकार बनेगी फिर किसानों के सच्चे दिन आएंगे महंगाई कम होगा उनकी उपज की सही कीमत मिलेगी और किसान खुशहाल होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments