Friday, February 3, 2023
Google search engine
HomeCrimeShraddha Walkar murder case : महाराष्ट्र में लव जिहाद के खिलाफ कानून...

Shraddha Walkar murder case : महाराष्ट्र में लव जिहाद के खिलाफ कानून लाएं’, श्रद्धा मर्डर केस के बाद विधायक रवि राणा की मांग

मुंबई। (Shraddha Walkar murder case) महाराष्ट्र के मुंबई से सटे वसई इलाके की रहने वाली श्रद्धा वालकर (Shraddha Walkar) की दिल्ली में उसके लिव इन पार्टनर आफताब पूनावाला के हाथों हुई हत्या ने ना सिर्फ दिल्ली और मुंबई बल्कि देश भर को झकझोर डाला है. सांसद नवनीत राणा के पति और बडनेरा से विधायक रवि राणा ने मांग की है कि महाराष्ट्र में लव जिहाद के खिलाफ कानून लाया जाए और उसे सख्ती से लागू किया जाए. रवि राणा ने यह मांग श्रद्धा वालकर के पिता विकास वालकर द्वारा लव जिहाद (love jihad ) की शंका जताए जाने के बाद की है.
रवि राणा ने गुरुवार को अपनी मांग में कहा कि जिस तरह उत्तर प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून है, उसी तरह महाराष्ट्र में भी इसकी जरूरत है ताकि राज्य की हिंदू लड़कियों को लव जिहाद से सुरक्षा मिल सके. रवि राणा (Ravi Rana) के साथ ही बीजेपी विधायक राम कदम, विधायक अतुल भातखलकर समेत महाराष्ट्र के अन्य नेताओं ने भी श्रद्धा मर्डर केस मामले में लव जिहाद की आशंका जताई है.

यूपी की तरह महाराष्ट्र में सख्त कानून लाना, लव जिहाद पर बोले राणा
आगे रवि राणा ने कहा, ‘हत्यारे को फांसी की सजा दी जानी चाहिए. लव जिहाद के खिलाफ जिस तरह का कानून उत्तर प्रदेश में लागू है, वैसा ही कानून महाराष्ट्र में भी लागू होना चाहिए.’ अपनी यह मांग रखते हुए वडनेरा के विधायक रवि राणा ने कहा कि वे इस मुद्दे को आगामी विधानसभा के सत्र में भी उठाने वाले हैं.बता दें कि बुधवार को शिवसेना उद्धव बालासाहेब ठाकरेगुट के सांसद संजय राउत ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा था कि बिना ट्रायल किए परिस्थितिजन्य साक्ष्य के आधार पर श्रद्धा के हत्यारे को बीच चौराहे पर फांसी दे देनी चाहिए. राज ठाकरे की पार्टी एमएनएस ने तो कहा है कि हत्यारे को एनकाउंटर करके उड़ा देना चाहिए.

यह खून दिल दहलाने वाला, कठोरतम दंड भी कम कहलाने वाला
रवि राणा ने गुरुवार को कहा, ‘श्रद्धा का खून बेहद क्रूर तरीके से किया गया. उसके शव के 35 टुकड़े किए गए, फिर उन्हें फ्रिज में रखा गया और रोज उन टुकड़ों को एक-एक कर जंगल में ले जाकर फेंका गया. यह बेहद चौंकाने वाला और दिल दहलाने वाला मामला है. श्रद्धा के साथ बेहद विकृत तरीके का व्यवहार किया गया है. इस घटना की जितनी कठोर तरीके से भर्त्सना की जाए, उतनी कम है. इस घटना के लिए गुनहगार को जितनी भी कठोर सजा दी जाए, कम है.’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments