Wednesday, May 15, 2024
Google search engine
HomeIndia'50 हजार करोड़ कहां खर्च होगा पता नहीं', BMC बजट पर बोले...

’50 हजार करोड़ कहां खर्च होगा पता नहीं’, BMC बजट पर बोले आदित्य ठाकरे

मुंबई: शनिवार को साल 2023-24 के लिए बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने 52,619।07 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। इस बार का बजट अनुमान 2022-23 की रकम से 14।52 प्रतिशत अधिक है। बृहन्मुंबई नगर निगम बजट को लेकर आदित्य ठाकरे ने कई सवाल खड़े किए हैं। आदित्य ने कहा कि मुंबई की सड़कों के घोटालों को लेकर जो प्रश्न किया गया था, उसका जवाब आया, इसे बृहन्मुंबई नगर निगम ने पत्र के माध्यम से जताया। उन्होंने कि मौजूदा सरकार है, दोबारा कब आएगी, रहेगी या नहीं इस बारे में पता नही।

50 हवाईअड्डे बनने वाले थे, क्या हुआ? मुंबई बृहन्मुंबई नगर निगम बजट को लेकर ठाकरे ने कहा कि कोई भी नया प्रोजेक्ट जाहिर नहीं किया गया है। जो कुछ छोटे-बड़े प्रोजेक्ट जाहिर किए गए हैं, उन पर भी हमारी बारीकी से नजर है। मुंबई के कमिश्नर पर जिस प्रकार का माहोल है, राजनीतिक उसे सभी देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि 50 हजार करोड़ से अधिक का बजट जो है, वो कहां खर्च करनेवाले है, किसी को नहीं पता। क्यों बढ़ाया गया बजट पता नहीं। मुंबई की सड़कों के घोटाले का फिर ज़िक्र करते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा कि टेंडर जिन 5 व्यक्तियों को दिया गया है, टेंडर किस बेस पर रखा गया, बढ़ाया गया, उसके बारे में एक स्वेत पत्र जारी किया जाए। जो बजट पेश किया गया है, जो व्यक्ति बजट पेश कर रहा है, वही आदमी बजट मान्य भी कर रहा है, ऐसे में लोकतंत्र बचा है कि नहीं ये बड़ा सवाल है।

उन्होंने कहा कि एक गुब्बारा जिस प्रकार से हवा भरने से फुला हुआ दिखाई देता है, उसी प्रकार से ये आज का बजट है। हमारा एक ही कहना है कि अबतक हमने मुंबईकरों का एक -एक पैसा संभलकर रखा हुआ था, उसे यदि खर्च करना है, तो सोच के और पारदर्शक रूप में खर्च करें। आदित्य ठाकरे ने कहा कि चिंता है जिस प्रकार से बजट पेश किया गया है, उसे देखकर यही लगता है कि मुंबई को दिल्ली के आगे झुकना है क्या? क्या हाथ में कटोरा लेकर मुंबई को दिल्ली के सामने भीख मांगना पड़ेगा आगे। हमने मुंबई करों के पैसों को फिक्स डिपॉजिट करने का काम किया, मुंबई में कोस्टल रोड का पैसा हमने अलग रखा था। मौजूदा सरकार ने डावोस से कितना व्यापार लिया पता नहीं, मगर मुझे लगता है कि इस सरकार ने बृहन्मुंबई नगर निगम को विकास के लिए देना चाहिए। एफडी से साढ़े पांच सौ करोड़ की इंटरनल ट्रांसफर किया है, वो किसलिए, क्या इस प्रकार से और भी पैसा किया गया है, ये करने की क्या आवश्यकता थी। हमने जो भी काम किया उसको लेकर मुंबई में कभी अपने बड़े–बड़े फ़ोटो नही लगाए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments